श्री राम और भक्त-Shri Ram and Bhakt

बहुत साल पहले की बात है। एक आलसी लेकिन भोलाभाला युवक था आनंद। दिन भर कोई काम नहीं करता बस खाता ही रहता और सोए रहता। घर वालों ने कहा चलो जाओ निकलो घर से, कोई काम धाम करते नहीं हो बस पड़े रहते हो। वह घर से निकल कर यूं ही भटकते हुए...

Continue reading

भारत की दुरदर्शिता India’s Liberty

#देश में करीब एक करोड़ मंदिर होंगे..हर मंदिर में पुजारी हो ऐसा जरूरी नहीं..लेकिन कई मंदिर ऐसे हैं जिनमें सौ सौ पुजारी होते हैं… तो अगर औसत निकालें तो हर मंदीर पर एक पुजारी…हर पुजारी का कम से कम चार सदस्यों का परिवार… यानी मंदिर के वजह से चार करोड़ लोग पल रहे हैं...

Continue reading

18 Positive Thoughts in Hindi – जो ज़िंदगी में आपको सफलता दिलाएँगी

Positive thoughts से मतलब केवल खुश होना ही नहीं है। Positive thoughts का मतलब है life में कुछ real values create करना और कुछ ऐसी skills create करना जो एक smile से भी ज्यादा देर टिके। केवल positive thinking रखने से ही इसका असर आपके काम, आपके health यहां तक कि आपकी life पर...

Continue reading

बीरबल ने चोर को पकड़ा Birbal caught the Thief

एक बार राजा अकबर के प्रदेश में चोरी हई। इस चोरी में एक चोर नें एक व्यापारी के घर से बहुत ही कीमती सामान चुरा लिया था। उस व्यापारी को इस बात पर तो पूरा विश्वास था कि चोर उसी के 10 नौकरों में से कोई एक था पर वह यह नहीं जानता था...

Continue reading

100 की कीमत |100-ki-keemat

100-ki-keemat बाहर बारिश हो रही थी और अन्दर क्लास चल रही थी, तभी टीचर ने बच्चों से पूछा कि अगर तुम सभी को 100-100 रुपये दिए जाए तो तुम सब क्या क्या खरीदोगे ?.किसी ने कहा कि मैं वीडियो गेम खरीदुंगा, किसी ने कहा मैं क्रिकेट का बेट खरीदुंगा, किसी ने कहा कि मैं...

Continue reading

जानें मन के तीन आयाम

मन की प्रकृति ही ऐसी है कि वो हर चीज़ को टुकड़ों में दिखाता है। अगर हम जागरूकता से इस विभाजन को मिटा दें, तो हम वास्तविकता के संपर्क में आ जाएंगे। अपने जीवन में लोग सोचते अधिक हैं और आनंदित कम होते हैं। ऐसा नहीं होना चाहिये। आपका मन समाज का बस कूड़ा...

Continue reading

एक संकल्प – परम को पाने का सरल उपाय

हम अक्सर जीवन में इच्छाएं करने से पहले यह सोचने लगते हैं कि क्या यह संभव हो पाएगा? असल में आप हर वो चीज पा सकते हैं जिसे आप पाना चाहते हैं। जानते हैं कि कैसे एक संकल्प हमें परम तत्व तक ले जा सकता है अगर आप अपने आसपास की दुनिया के मानवीय...

Continue reading

एक मन, विचार, संकल्प और स्वप्न

केवल ध्येय और विचार ही उदात्त होने से काम नहीं चलता संगठन के साने दृष्टि भी उदार होना आवश्यक है। बड़े लक्ष्य लेकर चलने ही बड़े कार्य सम्भव होते है। यदि संग्ठन अपने सम्मूख लक्ष्य ही छोटा रख ले तो फिर उसका दायरा भी सीमित हो जायेगा। शक्तिपूजा हमें उदात्तता की ही प्रेरणा देती...

Continue reading

Shriram Quotes in Hindi

·        इस संसार में प्यार करने लायक़ दो वस्तुएँ हैं-एक दुख और दूसरा श्रम। दुख के बिना हृदय निर्मल नहीं होता और श्रम के बिना मनुष्यत्व का विकास नहीं होता। – आचार्य श्रीराम शर्मा ·        संपदा को जोड़-जोड़ कर रखने वाले को भला क्या पता कि दान में कितनी मिठास है। – आचार्य श्रीराम...

Continue reading

अल्बर्ट आइंस्टीन का जीवन परिचय व इतिहास

सबसे पीछे रहने वाले एक बालक ने अपने गुरु से पूछा ‘श्रीमान मैं अपनी बुद्धी का विकास कैसे कर सकता हूँ?’अध्यापक ने कहा – अभ्यास ही सफलता का मूलमंत्र है। उस बालक ने इसे अपना गुरु मंत्र मान लिया और निश्चय किया कि अभ्यास के बल पर ही मैं एक दिन सबसे आगे बढकर...

Continue reading
Scroll to top